श्री नृसिंह पुराण एंव पूजन फल: Narsingh Puran

Narsingh Bhagwan दया के सागर है। श्री नृसिंह पुराण को एक बार पढ़ने से पाप नाश १०० बार पढ़ने से समस्त मनोरथ सिद्ध होते हैं। इस कलि काल में जहां उपासक हनुमान जी. भैरव जी, काली माता की उपासना करते हैं। ठीक उसी तरह नृसिंह भगवान(Narsingh Bhagwan) की भी उपासना करके अपने । समस्त जन्मों और कुलों का उधार करना चाहिए। भगवान नरसिंह शीघ्र और फलदायी हैं तथा दया के सागर हैं इसलिए उन्हें विश्वास और श्रद्धा के साथ पुकारें। मनोरथ सिद्धि नृसिंह पुराण(Narsingh Puran) के पाठ को आप ब्रहा मुहूर्त में करके अच्छा फल प्राप्त कर सकते है |
     

श्री नृसिंह पुराण /Narsingh Puran

इत्येतत् सर्वमाख्यातं पुराणं नारसिंहकम्। सर्वपापहरं पुण्यं सर्वदुःख निवारणम्॥

समस्त पुण्यं फलदं सर्व यज्ञ फल प्रदम्। ये पठन्त्यपि श्रृव्वन्ति श्लोकं श्लोकार्धमेवेवा॥

न तेषां पापवन्धस्त कदायिदपि जायते। विष्णुवर्षितमिदं पुण्यं पुराणं सर्वकामदम्॥

भाक्त्या च वदतामेतच्छव्वतां च फलं घृणु। शतजन्मर्जितैः पापैः सर्ध एव् विमोचिता॥

सहस्त्रकुलसंयुक्ता प्रयान्ति परमं पदम्। किं तीर्थ गोप्रदानैवा तपोभिर्वा किमश्वरैः॥

अहन्यहनि गोविन्दं तत्परत्वेन घृण्वताम। यः पठेत्प्रातरुत्थाय यदस्य श्लोकाविंशतिम ।।

ज्योतिष्टोम फलं प्राथ विष्णुलोके महीयते। एतत्पवित्रं पूज्यं च न वाच्यम कृतात्मनाम्॥

द्विजानां विष्णु भक्तानां घ्राव्यमेतन्न शंशय। एतत्पुराणश्रवण महामुत्र सुखप्रदम्॥

वदतां श्रव्वतां सधः सर्वपाप प्राणाशनम्। बहुमात्र किमुक्तेन भूयो भूयो मुनीश्वरः॥

श्रद्धया श्रद्धया पापि श्रातेव्यामिदमुतमम। भारद्वाज मुखाः सर्वेकृतकृत्या द्विजातमाः॥

भगवान नृसिंह(Narsingh Bhagwan) शीघ्र और फलदायी हैं तथा दया के सागर हैं इसलिए उन्हें विश्वास और श्रद्धा के साथ पुकारें। मनोरथ सिद्धि श्री नरसिंह पुराण के साथ आप नृसिंह विष्णु सहस्त्रनाम  और नृसिंह सहस्त्र पाठ का जप भी कर सकते है |

श्री नरसिंह पुराण पूजन फल (Narsingh Bhagwan)

नृसिंह पुराण  सब पापोंको हरनेवाला और सम्पूर्ण दुःखोंको दूर करनेवाला है। समस्त पुण्यों तथा सभी यज्ञोंका फल देनेवाला है। जो लोग इसके एक श्लोक या आधे श्लोकका श्रवण अथवा पाठ करते हैं, उन्हें कभी भी पापोंसे बन्धन नहीं प्राप्त होता। भगवान् विष्णु को अर्पण किया हुआ यह पावन पुराण समस्त कामनाओं की पूर्ति करनेवाला है।

नरसिंह

नृसिंह भगवान से संबंधित भक्ति भजन प्राप्त करने के लिए हमारी वेबसाइट फॉलो करते रहे |